काव्‍य किसे कहते हैं? परिभाषा एवं भेद | Kavya Kise Kahate Hain

काव्‍य किसे कहते हैं? परिभाषा एवं भेद | Kavya Kise Kahate Hain

इस आर्टिकल में हम Kavya Kise Kahate Hain इसके बारे में एकदम विस्‍तार से समझेंगे। काव्‍य जिसे हम कविता भी कहते हैं। एक प्रकार का साहित्‍य है जो एक विचार व्‍यक्‍त करता हैं, एक दृश्‍य का वर्णन करता हैं या शब्‍दों की एक केंद्रित, गीतात्‍मक व्‍यवस्‍था में कहानी कहता हैं। काव्‍य किसे कहते हैं? (Kavya …

काव्‍य किसे कहते हैं? परिभाषा एवं भेद | Kavya Kise Kahate Hain Read More »

आत्मकथा का अर्थ, परिभाषा, विशेषताएं एवं तत्व

आत्मकथा का अर्थ, परिभाषा, विशेषताएं एवं तत्व

आत्‍मकथा व्‍यक्ति द्धारा स्‍वयं के जीवन प्रसंगो की व्‍याख्‍या होती हैं। जिस प्रकार जीवनी में लेखक अपने चरित्र नायक की प्रशंसा प्रवृत्ति नहीं छोड़ पाता उसी प्रकार आत्‍मकथा लेखक भी प्राय: जीवन का सिंहावलोकन करते समय प्राय: गुणों का ही बखान करता हैं। यहां पर हम आज की पोस्‍ट में आपको आत्‍मकथा किसे कहते हैं? …

आत्मकथा का अर्थ, परिभाषा, विशेषताएं एवं तत्व Read More »

जल के महत्व पर 10 लाइन | 10 Lines on Importance of Water in Hindi 

जल के महत्व पर 10 लाइन | 10 Lines on Importance of Water in Hindi 

जल एक गैर नवीकरणीय संसाधन है जो कि पृथ्वी पर जीवन का आधार है। हमें इस तथ्य को महसूस करने की जरूरत है कि पृथ्वी पर पानी बहुतायत है लेकिन यह सभी पानी उपयोग करने के लिए सुरक्षित नहीं है एवं उपयोग के लिए सुरक्षित जल की बहुत ही कमी है अतः हमें जल को …

जल के महत्व पर 10 लाइन | 10 Lines on Importance of Water in Hindi  Read More »

जीवनी क्या होती हैं? इसकी परिभाषा और गुण

जीवनी क्या होती हैं? इसकी परिभाषा और गुण

जीवनी साहित्‍य की महत्‍वपूर्ण विधा है. किसी व्‍यक्ति के जीवन का चित्रण करना अर्थात किसी व्‍यक्ति विशेष के सम्‍पूर्ण जीवन वृतांत को जीवनी कहते है. जीवनी का अंग्रेजी अर्थ ‘बायोग्राफी’ है. जीवनी में व्‍यक्ति विशेष के जीवन में घटित घटनाओं का कलात्‍मक और सौन्‍दर्यता के साथ चित्रण होता है. जीवनी इतिहास, साहित्‍य और नायक की त्रिवेणी होती है. …

जीवनी क्या होती हैं? इसकी परिभाषा और गुण Read More »

उपन्‍यास के तत्‍व की विवेचना | Upanyas Ke Tatva

उपन्‍यास के तत्‍व की विवेचना | Upanyas Ke Tatva

Upanyas Ke Tatva:- उपन्यास का माध्यम गद्द होता है और उसका विषय मानव जीवन होता है उपन्यास यथार्थ जीवन का काल्पनिक चित्र होता है। यह चित्र कल्पित होते हुए भी यथार्थ ही प्रतीत होता है। मानव जीवन का चित्रण उपन्यास में कथा के रूप में होता है वर्णन के रूप में होता है । जीवन …

उपन्‍यास के तत्‍व की विवेचना | Upanyas Ke Tatva Read More »

एकांकी किसे कहते हैं? तत्‍व और प्रकार

एकांकी किसे कहते हैं? तत्‍व और प्रकार | Ekanki Kise Kahate Hain

Ekanki kise kahate hain:- रंगमंच पर आपने कई नाटक देखे होंगे। अब नाटक भी अलग-अलग तरह के होते हैं, और एकांकी भी एक तरह का नाटक ही हैं। और आज हम इसी के बारे में विस्‍तार से बात करेंगे कि एकांकी किसे कहते हैं? एकांकी और नाटक में अंतर क्‍या होता हैं, और एकांकी की …

एकांकी किसे कहते हैं? तत्‍व और प्रकार | Ekanki Kise Kahate Hain Read More »

महाशिवरात्रि पर 10 वाक्‍य | 10 line  on mahashivratri  in Hindi

महाशिवरात्रि पर 10 वाक्‍य | 10 line  on mahashivratri  in Hindi

10 line  on mahashivratri  in Hindi:- हिंदू धर्म शास्त्र के अनुसार सभी देवी देवताओं में भगवान शिव को  सबसे श्रेष्ठ माना जाता है । ब्रह्मांड के सभी देव एवं मानव जाति भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए अलग- अलग तरीके से पूजा, अर्चना करते हैं तथा व्रत एवं उपवास रखते हैं। परंतु इन सभी …

महाशिवरात्रि पर 10 वाक्‍य | 10 line  on mahashivratri  in Hindi Read More »

खेल पर 10 वाक्य | 10 Lines On Sports In Hindi

खेल पर 10 वाक्य | 10 Lines On Sports In Hindi

10 Lines On Sports In Hindi:– बच्चे हों या बड़े सभी को खेल पसंद होता है ।हम सभी अपने बचपन से खेलते ही हुए बड़े होते हैं ,और हमारे जीवन में भी खेल का बहुत ही महत्व होता है। खेल और शिक्षा का समन्वय बनाकर चलने वाले लोग सफल और स्वस्थ रहते है। कई प्रकार …

खेल पर 10 वाक्य | 10 Lines On Sports In Hindi Read More »

नारी का महत्‍व पर निबंध | Essay On Nari ka Mahatva in Hindi

नारी का महत्‍व पर निबंध | Essay On Nari ka Mahatva in Hindi

Essay On Nari ka Mahatva in Hindi:- सृष्टि के आदिकाल से ही नारी की महत्ता अक्षुण्ण है। नारी सजन की पूर्णता है ।उसके अभाव में मानवता के विकास की कल्पना असंभव है। समाज के रचना विधान में नारी के मां, प्रेयसी, पुत्री एवं पत्नी अनेक रूप हैं। वह षम परिस्थितियों में देवी है ,तो विषम …

नारी का महत्‍व पर निबंध | Essay On Nari ka Mahatva in Hindi Read More »

समय के सदुपयोग पर निबंध | Essay on samay ka sadupyog in hindi

समय के सदुपयोग पर निबंध | Essay on samay ka sadupyog in hindi

Essay on samay ka sadupyog in hindi:- समय के सदुपयोग पर ही जीवन की सफलता निर्भर है।क्योंकि सौभाग्य प्रत्येक व्यक्ति का दरवाजा एक बार खटखटाता है और जो व्यक्ति उसका स्वागत नहीं करता, उसे फिर जीवन में निराश होना पड़ता है। अतः यदि हम चाहते हैं कि हम अपने जीवन में सफल और महान बने …

समय के सदुपयोग पर निबंध | Essay on samay ka sadupyog in hindi Read More »